Browse:
673 Views 2018-03-06 05:33:34

नींबू-मिर्च लटकाने के पीछे के वैज्ञानिक तथ्य जो रखे आपको सेहतमंद

हमारी हिन्दू संस्कृति में अनेक ऐसी बातें है जिसका अपना एक महत्व है। वो बातें सदियों से पीढ़ी दर पीढ़ी मानी जा रही है। कुछ लोग इसे टोटके मानकर इनकी खिल्ली भी उड़ाते हैं। लेकिन इनमें से कई टोटकों के पीछे लॉजिक या वैज्ञानिक कारण भी बताएं गए हैं। उन्हीं में से एक है नींबू-मिर्च। वैसे तो अमूमन स्वाद के तौर पर इसे भोजन में इस्तेमाल किया जाता है। साथ ही इनका उपयोग नज़र उतारने में भी होता है। आपने देखा होगा कि लोग अपने मुख्य द्वार या दुकानों आदि पर नींबू-मिर्च लटकाते हैं। उनका कहना है कि इसे लटकाने से नज़र नहीं लगती है। बात तो ठीक है लेकिन कभी सोचा है आखिर नींबू-मिर्च को ही नज़र उतारने में क्यों इस्तेमाल करते हैं किसी अन्य खाद्य पदार्थ को क्यों नहीं। क्या हैं इसके फायदें और इसके पीछे के वैज्ञानिक तथ्य आइए जानते हैं।

नींबू के फायदें

  • नींबू में विटामिन सी और कई ऐसे पदार्थ होते हैं जो आपके शरीर को रोगों से लड़ने में मदद करते हैं।
  • इससे सांस संबंधी समस्या, सर्दी-जुकाम के खतरें भी कम हो जाते हैं।
  • नींबू में सैपोनिन नामक तत्व होता है जो शरीर को फ्लू से बचाता है।

हरी मिर्च के फायदें

  • हरी मिर्च में विटामिन सी पर्याप्त मात्रा में होता है।
  • यह एंटी-ऑक्सीडेंट का एक अच्छा माध्यम है।
  • हरी मिर्च में डाइट्री फाइबर्स प्रचूर मात्रा में होते हैं।
  • विटामिन ए से भरपूर हरी मिर्च आंखों और त्वचा के लिए फायदेमंद होता है।

क्या है वैज्ञानिक तथ्य

  • कहा जाता है नींबू के पेड़ से आसपास का वातावरण साफ रहता है, लेकिन आजकल हर घर में पेड़ होना मुमकिन नहीं है।
  • ऐसे में लोग नींबू-मिर्च लगाते हैं जिससे घर में आने वाली हवा शुद्ध रहे और सदस्यों पर नकारात्मक प्रभाव ना पड़े।
  • नींबू और मिर्च के रस से छोटे-छोटे बैक्टिरिया और वैसे जीवाणु प्राकृतिक रुप से ही मर जाते हैं।
  • जिस धागे में इन्हें लटकाया जाता है उसके नींबू और मिर्च में छेद से ही उसका रस और महक फैल पाता है।
  • तो इस प्रकार समय के साथ इसे आगे बढ़कर बुरी ताकतों को दूर करने वाला मान लिया गया। आपने जाना किस प्रकार नींबू-मिर्च नकारात्मक प्रभाव को दूर करने के साथ ही आपके स्वास्थ्य का भी ख्याल रखता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*