Browse:
723 Views 2019-05-30 06:14:05

सुख—शांति के लिए इस गणेश चतुर्थी घर लाएं विध्नहर्ता की ऐसी मूर्ति

सुख—शांति के लिए इस गणेश चतुर्थी घर लाएं विध्नहर्ता की ऐसी मूर्ति

सभी मंगल कार्य और पूजा में सबसे पहले गणेश जी की पूजा का नियम है। गणेश चतुर्थी पर गजानन की प्रतिमा स्थापित कर पूजा अर्चना की जाती है मगर इस अवसर पर गणेश जी की मूर्ति खरीदते समय शास्त्र अनुसार कुछ विशेष बातों का अवश्य ध्यान रखना चाहिए जिससे जीवन में सौभाग्य व खुशहाली आती है।

जानिये,घर की सुख—समृद्धि के लिए गणेश जी की मूर्ति खरीदते समय किन जरूरी बातों का ध्यान रखा जाए।

ऐसी प्रतिमाएं लाने से आता है सौभाग्य —

  • धर्म ग्रंथों में बताए गए गणेश जी के स्वरुप के अनुसार बनी हुई प्रतिमा खरीद कर घर लाकर पूजा करने पर गणेश जी की कृपा होती है और पूजा का पूर्ण फल भी मिलता है।
  • घर में बैठे हुए मुद्रा में भगवान गणेश जी की प्रतिमा लेना बहुत शुभ माना है और इस मूर्ति की पूजा करने पर घर में धन स्थाई रहता है और कार्यों में आ रही बाधाएं,अडचनें दूर होती हैं।
  • गणेश जी को वक्रतुंड भी संबोधित किया जाता है इसलिए जिस प्रतिमा में गणेश जी की सूंड बांई ओर मुडी हुई हो ऐसी प्रतिमा लेनी चाहिए जिससे भगवान गणेश जल्दी प्रसन्न होते हैं।
  • गणेश जी का अन्य नाम भालचंद्र भी है इसलिए गणपति की ऐसी मूर्ति खरीद कर घर लाना श्रेष्ठ माना है जिस पर भाल अर्थात् लाट पर चंद्रमा बना हुआ हो।
  • अगर लंबे समय से संतान सुख नहीं मिल रहा है तो घर पर बाल गणेश जी की मूर्ति या तस्वीर लानी चाहिए और प्रतिदिन इनकी विधिपूर्वक पूजा करने पर संतान सुख में आ रही बाधाएं दूर होती हैं।
  • घर में हमेशा कलह व तनाव की समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए इस गणेश चतुर्थी पर नृत्य करते हुए मुद्रा वाली गणेश जी की प्रतिमा घर लानी चाहिए और विधिपूर्वक पूजा से घर में आनंद,उत्साह व धन प्राप्ति के योग बनते हैं।
  • सिंदूरी रंग की प्रतिमा वाले गणेश जी घर लाने पर सौभाग्य जागता है और सुख—समृद्धि आती है।
  • मिट्टी से बने गणेश जी की प्रतिमा घर लाई जा सकती है या स्वयं भी मिट्टी से मूर्ति बना सकते हैं।

वास्तु अनुसार करें प्रतिमा स्थापित – वास्तु शास्त्र नियम के अनुसार गणेश जी की प्रतिमा को घर में ब्रह्म स्थान (केंद्र), पूर्व दिशा में या ईशान में स्थापित करना शुभ माना है।

मूर्ति खरीदते समय इन बातों का रखें ध्यान –

  • प्लास्टर ऑफ पेरिस या अन्य केमिकल्स के उपयोग से बनी गणेश जी की मूर्तियों को खरीदना शुभ नहीं माना है।
  • जिस प्रतिमा में गणेश जी का मोदक,वाहन चूहा नहीं हो ऐसी प्रतिमा भी नहीं खरीदनी चाहिए अन्यथा पूजा में दोष लगने की मान्यता मानी गई है।

इस तरह गणेश चतुर्थी पर मूर्ति से संबंधित इन जरूरी बातों का ध्यान रखकर विघ्न बाधाओं से मुक्ति मिल सकती है और गणेश जी की कृपा से हमेशा सुख—शांति की प्राप्ति होगी।

ज्योतिष व वास्तु संबंधित अधिक जानकारी के लिए पंडित पवन कौशिक से संपर्क करें: +91-9990176000

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*